स्‍वादिष्‍ट राजस्‍थानी घेवर

Rajasthani-Ghewar

घेवर एक राजस्‍थानी मिठाई है जो कि मैदे से बनाई जाती है। यह गोल आकार का होता है जो कि घी, मैदे और चाश्‍नी से बनाया जाता है। घेवर में भी आपको कई प्रकार की वैराइटी मिल जाएगी जैसे, प्‍लेन, मावा और मलाई वाली घेवर। तो दोस्‍तो देर किस बात ही है आइये देखते हैं इसे बनाने की सरल व‍िधि।

सामग्री
3 कप मैदा
1 कप घी
3-4 आइस क्‍यूब्‍स
4 कप पानी
1/2 कप दूध
1/4 चम्‍मच पीला रंग
1 किलो घी

सीरप
1 1/2 कप चीनी
1 कप पानी
सजावट के लिये:
1 चम्‍मच इलायची पाउडर
1 चम्‍मच बादाम (कटे हुए)
1 चम्‍मच पिस्‍ता
1 चम्‍मच दूध
1/2 चम्‍मच दूध में भिगोया हुआ केसर
सिल्‍वर फ्वॉइल

विधि

  1. सबसे पहले चीनी का सीरप तैयार कर के एक किनारे रख दें। उसके बाद एक बडे कटोरे में घी डालें, फिर दूध, मैदा और 1 कप पानी डाल कर एक स्‍मूथ घोल बनाएं।
  2. अब थोडे़ से पानी में पीला रंग मिला लीजिये और उस पानी को मैदे के घोल में डाल दीजिये, जरुरत के हिसाब से घोल में और अधिक पानी मिलाएं क्‍योंकि घोल पतला होना चाहिये।
  3. अब एक स्‍टील का बर्तन लें जो कि सिलिंडर के आकार का लंबा हो। मतलब उसकी ऊंचाई 12 इंच और मोटाई 5 इंच की हो। इस बतरन में आधे तक का घी भर दीजिये और गरम कर दीजिये।
  4. घी जब गरम हो जाए तब 50 एमएल गिलास भर के घोल लीजिये और उसे घी के किनारे किनारे डालिये और बीच में एक छेद बनाइये।
  5. घोल डालने के बाद उसे थोडा़ सा समय दीजिये जिससे वह बैठ जाए, इसके बाद फिर से गिलास भर कर दुबारा वही विधि अपनाइये। जब घेवर एक बार बैठ जाए तब उसे पकने दीजिये। आप देखेगी की घेवर भूरा होने लगेगा। इसके बाद एक लोहे की कलछुल से और घेवर के बीच में जो छेद है वहां पर उसे डाल कर सावधानी से निकाल लें।
  6. अब इसका अत्‍यधिक घी निकल जाने दें और इसे चाश्‍नी में डुबो दें और थोडी़ देर के बाद इसे निकाल कर किनारे रख दें जिससे इसका सीरप निकल जाए।
  7. जब यह हल्‍का ठंडा हो जाए तब इस पर सिल्‍वर फ्वॉइल लगा दें और केसर का दूध डालें। कटे हुए मेवे डाल कर इलायची पाउडर छिड़क दीजिये।
  8. आपका घेवर सर्व करने के लिये तैयार है।

Khushi ki Rasoiसे जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *